बापू भक्तों के भाव

बापू भक्तों के भाव  :21st Jan2014


अन्याय और दमन की इस संस्‍कृति में अपने संग्रहित
संवेदनशीलता का हम वहन करना भी चाहें तो आखिर कब तक ?
बीजेपी वायदों की काल-कोठरी में
सुब्रमण्यम,उमा,रमन,विहिप
इनके बोलबचन सुने कब तक?
उन्ही के राजस्थान में हो रहा सब
वसुंधरा ने क्या किया अब तक?

संजय ,लालू को बेल
बापूजी को क्यों नही बेल ?
मिडिया ट्रायल,डिबेट्स
महिला मुक्ति सब जगह मोर्चे ! आप भी !
रोज मनघडंत कहानियां
साईं जी पर क्या क्या बोले
जैसे वो मिडिया वालों के घर में छुपे थे !
मिडिया कि बेलगाम ,बेशर्म जुबान
मिडिया में आके पुलिस भी बकते
भोला,चावला ,विषारी “अमृत”
सब का मुह गटर का ढक्कन !

मौन मंदिर को गर्भपात से जोड़ा
मेरी समर्पित बहेनो को भी न छोड़ा!
मेरी छोटी दामिनी को भी जग्ज़ोड़ा
मेरी गुरु माँ ,दीदी साई को बदनाम किया
टी आर पि के लिए इंसानियत को मारा ?
जनता को गुमराह किया !

कोई लड़की शोषित होकर
दूसरे दिन हंसती खेलती है?
कौन १ लड़की आयी अन्याय अत्याचार
सह के उसने सत्संग किया?
उसपर अपनी बहेन को लाया?
जो खुद फसता है अपनों को नहीं फसाता है!!
उसपर पति को लेके आती है?
मैं भी १ औरत हूँ बापूजी का
नाम लेने से मेरी हर बार रक्षा हुयी है !

जो नारी को नारायणी कहते महिलाओं का उत्थान करते
महिलाओं कि रक्षा हेतु काम करते सत्संग करते
सभीको ब्रह्मचर्य का पाठ पढ़ाते
सरल साधना जाप ध्यान सिखाते
हमको दिव्य साधना कराते
और अद्भुद शक्तिपात करते !
आदिवासी गरीबों कि सेवा करते
सबके व्यसन मद्य और मांस छुड़ाते
हम है करोड़ों साधक कोई विदेशी तो कोई
हिन्दू,मुस्लिम,सिख ,दलित, ईसाई !
बापूजी के चमत्कारिक अनुभूतियों के क्या कहने ?
सुक्ष्म रूप से रक्षा करते है ” जो आये झोली भर ले
निज आत्मा का दर्शन कर ले !”

रातो रात मेरे बापू को ज़ेल?
घटियागाड़ी में १०००किमी ले गए
बुजुर्ग संत को खाने को भी न पूछा?
कब मिलेगी बापूजी को बेल?
कब तक सहेंगे बापूजी कष्ट?
कितनी ठण्ड ७५ साल के बुजुर्ग
न घर का खाना न ट्रीटमेंट ?

वोही नाटक तारीख पर तारीख?
सब माला लेके रोज रोते है
अगली सुनवाई में बेल मिलेगी
इस आस में आंसू के घूंट पीते है !
आँखों में आंसू और दिल में गुरुभक्ति लिए ऐसे
मेरे साधक भाई बहनों पर लाठियां बरसाई ?
बहोत हो गया अब ओ मिडिया , कोर्ट,सरकार
कहाँ है सबूत हमें भी तो दिखाओ!

कीड़े-मकोड़े सी मिल रही प्रताड़ना हम को
सहन करना भी चाहें तो आखिर कब तक ?
दम तोड़ती इस लोकतांत्रिक
व्‍यवस्‍था के मिडिया,राजनेता,गुरुद्रोही
कलियुगी रावणों क़ो हम सहें आखिर कब तक ?
कब तक मरेंगे यूंही खदबदाती इच्‍छाओं को हम
दमन करना भी चाहें तो आखिर कब तक ?
यह समय है रण का ! हमारे गुरुदेव के प्रण का
और कितना सहेंगे आखिर कब तक ?

Dekhiye :BapuBhakton ka Aandolan

SHRI SADGURUSAMARTH BHAGAVAAN KI MAHAA JAYJAYKAAR HO!!!!!

 

Advertisements
Explore posts in the same categories: Uncategorized

2 Comments on “बापू भक्तों के भाव”

  1. bhagwat gurunale Says:

    App jaisa uchit samze..hame manzur….bapu jabse arrest huve hai…..ajj tak koi positive..huva nahi….

  2. Vab Lhk Says:

    Om prabhuji i have been seeing you post satsang articles for a long time now , a very good job. We are doing online Suprachar sewa. Hope you can join this effort to spread the news about bapuji to one and every one.


Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s


%d bloggers like this: