क्यों बौरा गया है मीडिया

देखें विडियो – http://youtu.be/H004yvG0sPY
Image

ख़बरों में अर्थहीन और अंतहीन ड्रामों का मोड़ 
– आज २७ oct को सुबह ११ बजे क्यों बौरा गया है मीडिया, सत्य क्यों छुपा रहा है मीडिया, खबर को खबर तक महफूस रखने का दौर समाप्त क्यों हो गया ? इस विषय पर वरिष्ट पत्रकारों और जनता का आमना सामना और चर्चा DD news पर हुआ जानिये कैसे न्यूज़ चैनल्स देश को एक अलग दिशा में ले जा रहे है जिसका हर्जाना भुगतना पड़ सकता है | देखें विडियो 
– ख़बरों को बढ़ा-चढ़ा के Hype करने का तरीका मीडिया में घर कर चुका है | 
– खबर को खबर तक महफूस रखने का दौर समाप्त हो गया है |
– समाचार पर विचार और समीछा जरूरी है, परन्तु इसका तर्कसंगत होना जरूरी है |
– आसाराम बापू जैसी घटनाओं को क्यों इतना तूल दिया जा रहा है |
– क्यों उसे ऐसी खबर की तरह पेश किया जा रहा है जो वैसी है भी नहीं |
– TRP मिलेगी, आँखें मिलेंगी, और पैसा भी मिलेगा |
– मीडिया का अतिरेक 
– मीडिया बौरा गया है |
– तमाम तरह की अंट-शंट चीज़े दिखाई जा रहीं हैं, मीडिया पैसा कमाने का जरिया नहीं है | ये सोशल रेस्पोंसिबिलिटी भी है | क्या आज का मीडिया रेस्पोंसिबल है ?
– न्यूज़ चैनल को एक मदारी और बहरूपिये की तरह इस्तेमाल किया ? 
– क्या वो जो चाहे न्यूज़ चैनल्स पर प्रस्तुत कर सकते हैं
– जिसे कि वो न्यूज़ मीडिया का नाम दे रहे हैं 
– वो वो नहीं कर रहे जिसके लिए वो जाने जाते हैं
– जब भी बहस होती है तो सबसे पहले दर्शकों को कोड़े मारने का काम करते हैं कि दर्शक देख रहे हैं इसलिए हम दिखा रहे हैं आपने दर्शकों को दिखा दिखा कर इतना immune कर दिया है दर्शक की जो चॉइस है और आपके जो हित में है इसके बीच की जो विभाजन रेखा है वो धुंधली हो गयी है और आपको सुविधा है कि आप हर बात में दर्शक को कोड़े मारने का काम करें |
– आपको आसाराम बापू के मामले में दिक्कत ये है विज्ञापन का पैकेज आप को नहीं दिया 
– सैनिकों को हेलमेट पहनते और बुलेटप्रूफ जैकेट पहनते दिखाया गया और वहीँ गोली लगी उनको, क्या ये देश के साथ गद्दारी नहीं है 
– मीडिया चैनल पर न्यूज़ मिलती नहीं है खोजनी पड़ती है 
– रिमोट कण्ट्रोल में एक बटन होना चाहिए राईट टू रिजेक्ट का | जिस चैनल को देखना पसंद नहीं करते लोग उसके चैनलों और सरकार को पता लगाना चाहिए |
– विश्वसनीयता, निष्पक्षता और संवेदनशीलता आज मीडिया चैनलों पर बहुत जरूरी है | 

Advertisements
Explore posts in the same categories: Uncategorized

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s


%d bloggers like this: